अगर आपने अपने ATM का पिन कोड नही बदला तो तुरंत बदलें, 5 बैंकों के 32 लाख ATM के पिन कोड हुए चोरी,

0
95

देश भर में तकरीबन 32 लाख एटीएम के पिन चोरी होने की आशंका है. जानकारी के मुताबिक मालवेयर वाले एटीएम मशीन से पैसे निकालने की वजह से ये पिन चोरी हुए हैं. जिन बैंकों के कस्टमर्स के डेटा चोरी हुए हैं उनमें SBI, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई, येस बैंक और एक्सिस बैंक शामिल हैं.
खबर के मुताबिक कार्ड नेटवर्क कंपनियों नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI), मास्टरकार्ड और वीजा ने भारत के तमाम बैंकों को इसकी सूचना दी है कि कुछ कार्ड्स की जानकारी चोरी हुई हैं

आरबीआई इस पूरे मामले पर नजर बनाए हुए है. आरबीआई ने वीजा और मास्टरकार्ड को निर्देश दिए हैं कि वे कस्टमर्स को हुए घाटे की भरपाई करे.

इस दिवाली 28 हज़ार का स्मार्टफोन Oneplus3 सिर्फ 1रुपये में मिलेगा

बैंक कर रहे हैं एटीएम पिन बदलने की अपील

हालांकि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने 6 लाख कस्टमर्स को दोबारा डेबिट कार्ड इश्यू करने का फैसला लिया है तो वहीं दूसरे बैंक लगातार अपने कस्टमर्स से एटीएम पिन बदलने के लिए कह रहे हैं. इतना ही नहीं दूसरे बैंक ऐसे इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन को भी ब्लॉक कर रहे हैं जो बिना पिन के हो रहा है.

ये डाटा कहां से चोरी हुए हैं इसकी जांच फिलहाल चल रही है लेकिन खबरों के मुताबिक उन लोगों के पिन चोरी हुए हैं जो हिटाची पेमेंट सर्विस से जुड़े एटीएम का इस्तेमाल कर रहे हैं. बता दें कि हिटाची पेमेंट सर्विस येस बैंक के लिए ATM नेटवर्क चलाती है. यह मामला इस साल जुलाई महीने में ही सामने आया था. लेकिन बैंक का कहना है कि उसके एटीएम नेटवर्क में किसी तरह की परेशानी नहीं है. वह अपने कस्टमर्स की निजी जानकारी को सुरक्षित रखने के लिए काम कर रहे हैं.

SBI ने ब्लॉक किए लाखों एटीएम कार्ड

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने बुधवार को अपने लगभग 6 लाख यूजर्स के एटीएम ब्लॉक कर दिए, क्योंकि बैंक को एक थर्ड पार्टी एटीएम से आए वायरस से अपनी सुरक्षा में सेंध लगने का खतरा है. कस्टमर्स की सुरक्षा के लिहाज से बैंक मैसेज के जरिए लगातार चेतावनी दे रहा है. अब जिन लोगों के एटीएम ब्लॉक हुए हैं, उन्हें दोबारा कार्ड के लिए अप्लाई करना होगा, लेकिन इसके लिए पैसे नहीं देने होंगे.



Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here