गर्लफ्रेंड ने किया लड़के का रेप, तीन महीने बाद सामने आई असली सच्चाई । कैसे हो सकता है ये की एक लड़की किसी लड़के का रेप कर सके…? जाने पूरी खबर…

0
296

नई दिल्ली- दिल्ली में एक बार फिर युवती द्वारा नाबालिग लड़के से दुष्कर्म का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। स्कूल के रिकॉर्ड और मेडिकल रिपार्ट आने के बाद बहुत नाटकीय ढंग से पूरा मामला पलट गया। स्कूल रिकॉर्ड में वह नाबालिग निकला। इसके आद यह मामला अदालत पहुंचा। किशोर न्यायालय ने सुनवाई के दौरान कहा कि सच्चाई यह है कि दुष्कर्म नाबालिग लड़के नहीं, बल्कि उक्त युवती नेे किया है।

विशेष

नाबालिग के खिलाफ दुष्‍कर्म की रिपोर्ट लिखवाने वाली युवती अपनेे ही बुने जाल में फंस गई। दरअसल, पुलिस ने जो साक्ष्‍य जुटाए उसमें यह प्रमाणित हो गया कि युवती ने नाबालिग के साथ दुष्‍कर्म किया।

दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद था पीड़ित युवक यह भी कम हैरान करने वाली बात नहीं है कि पुलिस ने आरोपी नाबालिग लड़के को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। पुलिस ने यह कार्रवाई युवती की शिकायत के बाद की थी। बाद में पुलिस को स्कूल के रिकॉर्ड से पता चला कि आरोपी की उम्र कम है और वह नाबालिग की श्रेणी में आता है।

जून में युवती ने दर्ज कराई थी दुष्कर्म की रिपोर्ट

पुलिस के मुताबिक, इसी साल जून में युवती ने दुष्कर्म के मामले में नाबालिग के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए नाबालिग को बालसुधार गृह भेज दिया गया था।

यूं पलट गया मामला… तो युवती ने किया नाबालिग लड़के से दुष्कर्म

पुलिस ने इस मामले में चार्जशीट दाखिल की। इसमें नाबालिग की मार्कशीट कोर्ट में पेश की गई। इस पर किशोर न्यायालय मामले की सुनवाई करते हुए युवती के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिया, इसके बाद युवती को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

पुलिस की मानें तो इसी साल जून महीने में युवती ने नाबालिग को बालिग बताकर दक्षिणी दिल्ली के ग्रेटर कैलाश थाने में फर्जी दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था।
युवती ने 17 साल के नाबालिग लड़के पर आरोप लगाया था कि उसने शादी का झांसा दिया, लेकिन शादी नहीं की। बाद में उसने शादी करने से भी इन्कार कर दिया। पुलिस के मुताबिक दोनों लोग जमरूदपुर इलाके में साथ में रहते थे। 24 साल की युवती जमरूदपुर में नौकरानी का काम करती थी। वहीं 17 साल का किशोर इसी इलाके में रहकर छोटा-मोटा काम करता था। साथ रहने होते हुए जब किशोर ने शादी से इंकार किया तो उसने दुष्कर्म का केस दर्ज करा दिया था। पुलिस ने आरोपी किशोर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

झारखंड से लड़के को लेकर खुला यह राज पुलिस ने झारखंड में लड़के की उम्र के बारे में स्कूल से पता किया तो वह भी हैरान रह गई। मार्कशीट से पता चला कि आरोपी बालिग नहीं, बल्कि नाबालिग है, उसकी उम्र 17 साल है।

कोर्ट ने कहा, ‘यौन शोषण युवती का नहीं बल्कि नाबालिग का हुआ’किशोर न्यायालय ने सुनवाई के दौरान कहा कि यौन शोषण युवती का नहीं बल्कि नाबालिग का हुआ है। ऐसे में युवती पर मामला दर्ज होना चाहिए।

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here