तेलंगाना में भारी बाढ़ 11 की मौत, बचाओ अभियान चालु…

0
30

​तेलंगाना में बाढ़ का कहर जारी है. बाढ़ से मेडक जिले में 8 और वारंगल में 3 व्यक्तियों की मौत हो गई. ऐसे में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 11 हो गई है. वहीं, सेना ने मेडक जिले बाढ़ में फंसे 24 मजदूरों को बचा लिया है. बाढ़ प्रभावित इलाकों में बचाव और राहत कार्य जारी है। तेलंगाना के मेडक जिले में शनिवार से आई बाढ़ में फंसे 24 श्रमिकों को भारतीय सेना ने बचा लिया है. भारी बारिश के कारण शनिवार शाम को बचाव अभियान में रुकावट आ गई थी. रविवार सुबह फिर से बचाव अभियान शुरू कर दिया गया. अधिकारियों ने कहा कि दो चेतक विमानों ने येदुपयाला में मंजीरा नदी में फंसे मजदूरों को बचाया. मध्य प्रदेश और ओडिशा के प्रवासी मजदूर इलाके में तीन पुलों के निर्माण कार्य में लगे हुए थे.

मंत्रियों को राहत कार्यों का जायजा लेने का दिया आदेश

पिछले कुछ दिनों से राज्य में भारी बारिश होने के मद्देनजर मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगियों को अपने-अपने जिलों में रहने और बाढ़ की स्थिति की निगरानी करने को कहा है. मुख्यमंत्री ने राहत और पुनर्वास कार्यों की निगरानी करने के आदेश भी दिए हैं.

वारंगल में हाई अलर्ट

बाढ़ की स्थिति के मद्देनजर राव ने सोमवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक रद्द कर दी और मंत्रियों से कहा कि वे जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ मिलकर काम करें. साथ ही ये सुनिश्चित करें कि निचले स्तर में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जाए. राव ने वारंगल जिला प्रशासन से हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया, क्योंकि गोदावरी नदी पूरे उफान पर है. उन्होंने मंत्री टी नागेश्वर राव से कहा कि वह खम्माम जिले में पूरी सतर्कता रखे, क्योंकि भद्रचालम में जल का स्तर खतरे के निशान पर पहुंच सकता है.

हर जिले में बनेगा कंट्रोल रूम

तेलंगाना में भारी बारिश से राजधानी हैदराबाद समेत राज्य के अन्य हिस्सों में जनजीवन प्रभावित हो गया है. मुख्यमंत्री राव ने इससे पहले लोगों को जरूरी मदद के लिए राज्य के हर जिले में एक कंट्रोल रूम बनाने का निर्देश दिया है.

एनडीआरएफ भी तैयार

मुख्यमंत्री के आदेश के बाद एनडीआरएफ को किसी भी आपदा के समय मदद पहुंचाने के लिए हैदराबाद में तैयार रखा गया है. इसके अलावा बारिश से प्रभावित हैदराबाद और इसके पड़ोसी जिले रंगारेड्डी में सेना की चार टुकड़ियां पहले ही तैनात की गई हैं.

Comments

comments

Related posts:

लखनऊ: बलात्कार की घटना उत्तर प्रदेश में आम बात हो चुकी है क्योंकि यहाँ परिवार को बंधक बनाकर 12 साल क...
तो ये है वो स्पीच जिसे पढ़ते हुए अखिलेश आँखे हो गयी थी नम
आम आदमी को मिली राहत, 500 और 1000 के पुराने नोट अब 30 नवम्बर तक मान्य रहेंगे, देखिये पूरी जानकारी...
40 करोड़ की ब्लैकमनी को वाइट् करने के आरोप में दो बैंक मैनेजर गिरफ्तार, बदले में लिया था सोना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here