पाकिस्तान के इस्लामाबाद में F16 लड़ाकू विमान उड़ते देखे गए पाकिस्तान ने कहा सिर्फ रूटीन एक्सरसाइज़। पूरी खबर के लिए क्लिक करे…

0
87

पाकिस्तान इस्लामाबाद उरी हमले के बाद भारत-पाकिस्तान में तनाव बढ़ गया है. जुबानी जंग जारी है. पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार हामिद मीर ने दावा किया है कि गुरुवार रात करीब 10.20 बजे उन्होंने इस्लामाबाद के ऊपर एफ़-16 विमान उड़ते देखे. ये विमान रोशनी के गोले फेंक रहे थे और इनसे तेज आवाजें आ रही थीं हामिद मीर ने इसकी जानकारी ट्वीट कर दी।

गौरतलब है कि हाल ही में भारत के उरी सेक्टर में हमले हुए थे. वहीं संयुक्त राष्ट्र महासभा में भी पाक पीएम नवाज़ शरीफ को दुनियाभर में आलोचना का सामना करना पड़ा, जो आतंकी बुरहान वानी को लीडर बता रहे हैं. वहीं भारतीय सेना ने उरी हमले के बाद कहा था कि इस हमले का सही समय पर जवाब दिया जाएगा.हामिद मीर के मुताबिक, जब हमने पाकिस्तान के सैन्य अधिकारियों से संपर्क किया तो पता चला कि रात के समय युद्ध अभ्यास किया जा रहा है. अधिकारियों की ओर से बेफ़िक्र रहने की बात कही गई. इसे पाकिस्तानी एयरफोर्स की रूटीन एक्सरसाइज कहा गया।
लाहौर-इस्लाबाद के बीच जो मोटर-वे है, उसमें दो जगह ऐसी बनाई गई हैं, जहां पर फाइटर जेट लैंड कर सकें, गुरुवार रात इसी मोटर-वे पर लैंडिंग का अभ्यास हुआ डॉन न्यूज के पत्रकार कल्बे अली ने एनडीटीवी इंडिया से कहा कि अमूमन हर साल प्रैक्टिस होती है, लेकिन भारत पाकिस्तान के बीच तनाव के माहौल के बीच इसे ज्यादा गंभीरता से लिया गया।

वैसे यह भी एक तथ्य है कि पाकिस्तान सेना का एयरबेस रावलपिंडी में है, जो इस्लामबाद से सटा हुआ शहर है. कुछ किलोमीटर के दायरे में ही पाकिस्तानी सेना के कई संवेदनशील ठिकाने हैं. ऐसे में जब कोई लड़ाकू विमान उड़ता है तो उसकी गूंज शहर में बसने वालों को भी सुनाई पड़ती है. इस बार तनाव के माहौल की वजह से लोग खौफजदा नजर आए
पाकिस्तान की सरकार और सेना के बीच कश्मीर को लेकर यह प्रतिस्पर्धा रहती है कि वे इस मुद्दे को लेकर ज्यादा संजीदा और ज्यादा गंभीर हैं. जब पाकिस्तान की चुनी हुई सरकार संयुक्त राष्ट्र में भारत के खिलाफ कूटनीतिक कोशिशों को बढ़चढ़ कर पेश कर रही है वैसे में पाकिस्तान की सेना भी यह दिखाना चाहती है कि वह भी हाथ पर हाथ धरे नहीं बैठी है. लड़ाकू विमानों की गूंज के जरिए पाकिस्तान की आवाम में यह जताने की कोशिश की है कि हम हैं तो मुल्क है।

गौरतलब है कि रविवार को सीमा पार से आए चार पाकिस्तानी आतंकियों ने आर्मी बेस पर हमला कर दिया था. उन्होंने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग की और ग्रेनेड फेंके. इन चारों आतंकवादियों को तीन घंटे की भीषण मुठभेड़ के बाद मार गिराया गया था. इस हमले में 18 जवान शहीद हो गए थे. भारत ने उरी हमले के लिए सीधे तौर पर पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया है और सोमवार को सरकार ने पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने की कोशिश करने का फैसला किया है।

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here