भारत तिब्बत सहयोग मंच कैलाश मानसरोवर की मुक्ति के लिए चलायेगा अभियान

0
129

​लखनऊ 18 जुलाई 2016। भारत तिब्बत सहयोग मंच कैलाश मानसरोवर की मुक्ति का लिए अभियान चलाएगा। जिसका नाम श्रावण संकल्प होगा। जिसका शुभारम्भ गुरुपूर्णिमा के शुभ अवसर पर कल दिनांक 19 जुलाई 2016 को मनकामेश्वर मंदिर की महंत साध्वी देव्या गिरी गोमती तट पर शिवभक्तों को संकल्प दिलाकर करेंगी। इस सम्बन्ध में एक महत्वपूर्ण बैठक मनकामेश्वर मंदिर में हुयी।

इस आशय की जानकारी देते हुए भारत तिब्बत सहयोग मंच के प्रदेश अध्यक्ष डॉ0 संजय शुक्ला ने बताया कि वर्ष 1950 के पहले तिब्बत पर चीन के कब्ज़ा करने से पहले कोई भी शिवभक्त बिना रोक टोक जा सकता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। चीनी सरकार द्वारा तिब्बत पर कब्जा करने के उक्त यात्रा पर जाने वाले यात्रियों की संख्या पर रोक लगाने के साथ ही इसकी फ़ीस डेढ़ लाख से दो लाख करने के साथ ही अनेक प्रकार के प्रतिबंध लगा दिए है। वही भारत सरकार द्वारा इस यात्रा पर जाने वाले यात्रियों को।किसी प्रकार की सहायता नहीं देती है और न ही रास्ते में सरकार द्वारा कोई यात्री निवास की व्यवस्था की गयी है, जिसके कारण चाह कर भी लाखों श्रद्धालु भगवान शंकर के निवास स्थान कैलाश मानसरोवर की परिक्रमा नही कर पाते है। इसके लिए भारत तिब्बत सहयोग मंच ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को ज्ञापन देकर उक्त समस्या के प्रति उनका ध्यान आकृष्ट किया था और समाधान की मांग की थी, लेकिन अभी तक केंद्र सरकार द्वारा कोई ठोस कदम नही उठाये गये है।

 भारत तिब्बत सहयोग मंच के प्रदेश अध्यक्ष डॉ0 संजय शुक्ला ने आगे कहा कि हज यात्रियों की तरह ही कैलाश मानसरोवर और बाबा अमरनाथ जाने वाले शिव भक्तों को केंद्र और राज्य सरकारों से सहायता दिये जाने, हज हॉउस की तरह ही कैलाश मानसरोवर व बाबा अमरनाथ यात्री निवास का निर्माण कराने के साथ यात्री सुविधाओं में विस्तार किये जाने को लेकर सहयोग मंच श्रावण संकल्प के नाम से व्यपाक अभियान प्रारम्भ क्र रहा है, जिसके माध्यम से होर्डिंग, फ्लैक्स, हैण्डविल, गोष्ठी के माध्यम से शिव भक्तों में जनजागरण किया जायेगा, साथ उनसे इस आशय की अपील की जायेगी कि श्रावण मास में वह भगवान शंकर के अभिषेक करते समय कैलाश मानसरोवर की मुक्ति के लिए भी प्रार्थना करें। इसके लिए शिवभक्तों को संकल्प भी दिलाया जाएगा।

पुरे उत्तर प्रदेश में चलने वाले इस अभियान की संरक्षक मनकामेश्वर मंदिर की महंत साध्वी देव्यागिरी है, वह गुरुपूर्णिमा के शुभ अवसर पर कल दिनाक 19 जुलाई 2016 को सायं 6.0 0 बजे, गोमती नदी के  मनकामेश्वर उपवन घाट पर शिवभक्तों को संकल्प दिलाकर विधिवत शुरुआत करेंगी, साथ ही आदिगंगा मां गोमती की महाआरती भी होगी।

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here