बाढ़ और बारिश से बेहाल आधा हिंदुस्तान, गुजरात- मध्य प्रदेश में बिगड़े हालात, असम में कुछ सुधार

0
59
Betul: Passengers being rescued after a speedy jeep fell down in Machna river in Betul district of Madhya Pradesh on Monday. PTI Photo(PTI7_12_2016_000024B)

 देश के कई राज्यों में बारिश ने कहर बरपा रखा है. तेज आंधी से और बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. गुजरात, महाराष्ट्र और असम सहति देश के कई राज्यों में बाढ़ आ गई है. बाढ़ के चलते कहीं लोगों के घर उजड़ गए तो कहीं सड़कें पानी में डूब गई हैं.

मुंबई में दर्दनाक हादसा

तेज आंधी के चलते मुंबई के चेंबूर इलाके में एक महिला के ऊपर नारियल का पेड़ गिर गया. हादसे में महिला की मौत हो गई. इस दर्दनाक हादसे की तस्वीरें सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई. ये महिला सड़क पर पैदल जा रही थी तभी इसके ऊपर पेड़ गिर गया.

मुंबई में हो रही लगातार बारिश से सड़कों पर घुटनों तक पानी भर गया है.  जिसकी वजह से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

गुजरात में भी बुरा हाल

लगातार बारिश से गुजरात के कई हिस्सों में बुरा हाल है. सौराष्ट्र में सड़कें पानी में डूब गई हैं. घरों में भी पानी घुस गया है, जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

पानी में पूरी तरह डूबा मंदिर का गर्भगृह 

गुजरात के गीर सोमनाथ के मशहूर माधवराय मंदिर में 10 फीट तक पानी भर गया है. गीर सोमनाथ का मंदिर पांच हजार साल पुराना है. माना जाता है कि भगवान कृष्ण पांच हजार साल पहले यहां आए थे. बारिश के पानी में मंदिर का गर्भगृह पूरी तरह से डूब गया है.

राजस्थान के प्रतापढ़ का हाल बेहाल

राजस्थान भी बाढ़ से बेहाल है. प्रतापगढ़ जिले में लोग जान जोखिम में डालकर पानी को पार करते दिख रहे हैं. कुछ दिन पहले बांसवाड़ा के एसडीएम की मौत भी बाढ़ के पानी में बहकर हो चुकी है.

flood 03

मध्य प्रदेश में भी लोग मुश्किल में

मध्य प्रदेश के सागर, झाबुआ और भोपाल के कई इलाकों में पानी भरने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. सागर में तो नौ लोग ट्रैक्टर सहित पानी की धार में बह गए. दूसरा हादसा दो नन्हें मासूमों के साथ हुआ. पद्मानगर में आने वाले सुंदर लाल श्रीवास्तव स्कूल के पास बहने वाले नाले में दो मासूम बच्चे बह गए थे, लेकिन लोगों की सूझबूझ और होशियारी से बच्चों को बचा लिया गया.

flood 02

असम की स्थिति में थोड़ा सुधार

असम में बाढ़ की स्थिति में थोड़ा सुधार हुआ है. हालांकि राज्य के 13 जिलों में दो लाख से ज्यादा लोग अब भी प्रभावित हैं. असम के गोलाघाट शहर में धानसिरी नदी और गोलाघाटी में नुमालीगढ़ और करीमगंज शहर में कुशियारा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here