पारा के प्लाईवुड फैक्टरी में लगी भीषण आग,

0
52

पारा के पूर्वीदीन खेड़ा स्थित राजा प्लाईवुड फैक्टरी में बुधवार देर रात भीषण आग लग गई। फैक्टरी करीब तीन बीघे क्षेत्रफल में फैली है
फैक्टरी से निकलती तेज लपटों से पूरे इलाके में दहशत फैल गई। पुलिस व अग्निशमन विभाग की टीम ने आग बुझाने शुरू किया। 
वहीं आसपास के रिहायशी इलाकों को भी खाली करा दिया गया है। आग की भयावहता देखते हुए जिले के सभी फायर स्टेशन से दमकल की गाड़ियां बुलाई गईं हैं। वहीं आसपास के जिलों से संपर्क किया गया है।
प्रभारी निरीक्षक पारा त्रिलोकी सिंह के मुताबिक, रात 11.30 बजे पुलिस कंट्रोल रूम को आग की सूचना मिली। सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची। 
वहीं, मुख्य अग्निशमन अधिकारी विजय कुमार सिंह भी अपनी टीम के साथ पहुुंचे। सीएफओ के मुताबिक, आग पर काबू पाने के लिए राजधानी के सभी फायर स्टेशन से दमकल की गाड़ियां मंगा ली गई हैं। 
स्थानीय लोगों के मुताबिक, रात करीब 11.15 बजे फैक्टरी से धुआं निकलता दिखा। देखते-देखते महज दस मिनट में ही फैक्टरी से तेज लपटें निकलने लगीं। फैक्टरी में काम करने वाले मजदूर भागकर बाहर आ गए। शोर मचाया और पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। स्थानीय लोगों ने आग बुझाने की कोशिश शुरू की, लेकिन तेज लपटों के सामने उनका प्रयास बेकार चला गया। सूचना मिलते ही सरोजनीनगर, पीजीआई, आलमबाग, बीकेटी, हजरतगंज, गोमतीनगर, इंदिरानगर फायर स्टेशन की दमकल की 19 गाड़ियां पहुंचीं। आग पर काबू पाने की कोशिशें शुरू कर दी गईं।
फैक्टरी के किनारे बस्ती में मची भगदड़
फैक्टरी के आसपास झुग्गी बस्ती है। आग की लपटें निकलती देख बस्ती में भगदड़ मच गई। लोेग अपने झुग्गी से सामान समेट कर भागने लगे। पुलिस ने लोगों को तत्काल बस्ती खाली कराना शुरू कर दिया। प्रभारी निरीक्षक पारा के मुताबिक, फैक्टरी के आसपास के करीब 35-40 से ज्यादा झुग्गियां हैं। सभी को बाहर निकाला गया है। आग कैसे लगी है। इसके बारे में जानकारी हासिल की जा रही है। आग लगने की सूचना पर आसपास के सैकड़ों लोग फैक्टरी के पास पहुंचे। लोगों को काबू करने के लिए आसपास के मानकनगर, आलमबाग, कृष्णानगर की पुलिस को बुला लिया गया था। पुलिस के मुताबिक आग काफी बड़ी है। इस पर काबू पाने में समय लगेगा।
चार साल पहले भी हुआ था अग्निकांड
पुलिस के मुताबिक, इसी फैक्टरी में चार साल पहले भी आग लगी थी। इसमें लाखों रुपये का समान राख हो गया था। इसके बाद भी फैक्टरी मालिक मालिक स्वीटी सिंह ने आग से सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए। मुख्य अग्निशमन अधिकारी विजय कुमार सिंह के मुताबिक, फैक्टरी में फायर फाइटिंग सिस्टम लगे हैं, लेकिन वह किसी काम के नहीं है। विभाग की एक टीम जांच के लिए बनाई जाएगी। जिसकी रिपोर्ट आने के बाद फैक्टरी मालिक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
कई किमी. दूर दिख रही थीं लपटें
फैक्टरी की आग काफी बड़ी थी। कई किलोमीटर तक आग की लपटें दिख रही थीं। आसपास के एक किलोमीटर की दूरी तक लोग घरों से बाहर निकलकर आग के बारे में जानकारी हासिल करने लगे।
तेज हवाओं ने बढ़ाई दिक्कत
सीएफओ विजय कुमार सिंह के मुताबिक, तेज हवाएं चलने के कारण दूर तक लपटें निकलने लगीं। आग बुझाने में जुटे अग्निशमन कर्मियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं आग पर काबू पाने के लिए फैक्टरी की एक तरफ से दीवार को भी तोड़ना पड़ा। 
जान बचाकर भागे 45 मजदूर
स्थानीय लोगों के मुताबिक, जब फैक्टरी आग लगी उस वक्त 45 से अधिक मजदूर काम कर रहे थे। अचानक फैक्टरी के एक हिस्से से आग की लपटें देख मजदूर काम छोड़कर भागने लगे। बाहर आकर मजदूरों ने शोर मचाया तो लोगों ने आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू किया गया। पुलिस के मुताबिक आग से कोई हताहत नहीं हुआ है। पुलिस के मुताबिक, आग बृहस्पतिवार तक ही बुझ सकेगी।

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here