रेलवे ट्रैक पर बम विस्फोट, पटरी से उतरा इंजन,

0
44

भाकपा माओवादी नक्सली संगठन के नेता प्रशांत बोस और उनकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी के विरोध में भारत बंद का आह्वान किया है। इस दौरान झारखंड के कई जिलों में नक्सलियों ने ट्रेनों को निशाना बनाया है। 12 घंटे के भीतर नक्सलियों ने दो बड़ी घटनाओं को अंजाम दिया है। झारखंड के धनबाद में रेलवे ट्रैक पर बम विस्फोट से उड़ा दिया। घटना के बाद डीजल लोकोमोटिव का इंजन पटरी से नीचे उतर गया। वहीं, लातेहार में भी नक्सलियों ने ट्रैक को विस्फोट कर उड़ा दिया है। 

प्राप्त सूचना के अनुसार, नक्सलियों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। राहत की बात है कि इस वारदात में किसी की मौत या चोट नहीं आई है। मौके पर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी और पुलिस प्रशासन पहुंच चुके हैं और ट्रैक को सुधारने का काम चल रहा है। बीते दिनों झारखंड में नक्सलियों ने तांडव मचाया था। 
 माओवादी पोलित ब्यूरो सदस्य और एक करोड़ के इनामी नक्सली प्रशांत बोस और उनकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी के विरोध में नक्सलियों ने 19 नवंबर से 20 नवंबर की रात तक भारत बंद रखने का एलान किया है।  नक्सलियों ने टोरी रिचुघुटा डेम स्टेशन का रेलवे ट्रैक उड़ा दिया, जिसके कारण कई ट्रेनों के रूट में बदलाव किए गए हैं। साथ ही  इसे लेकर राज्यभर में पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है. सुरक्षा एजेंसियों को पूरी तरह चौकस रहने का निर्देश है। 


एक करोड़ के इनामी नक्सली की गिरफ्तारी के विरोध में नक्सलियों ने शनिवार को भारत बंद का आह्वान किया है। इस दौरान राज्य में कई स्थानों पर रेलवे ट्रैक को नुकसान पहुंचाने का मामला सामने आया है। धनबाद के बाद लातेहार जिले में प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) के सदस्यों ने शनिवार तड़के रेलवे ट्रैक को उड़ा दिया, जिससे बरकाकाना-गढ़वा मार्ग पर ट्रेन सेवा बाधित है। एक अधिकारी ने बताया कि रिघुगुटा और डेमू स्टेशनों के बीच सुबह करीब साढ़े बारह बजे रेलवे ट्रैक पर विस्फोट किया गया। पलामू रेंज के पुलिस उप महानिरीक्षक राजकुमार लकड़ा ने बताया कि भाकपा-माओवादी दस्ते के सदस्यों ने लातेहार में रेल पटरियों को उड़ा दिया, जिससे बरकाकाना-गढ़वा रेल मार्ग पर ट्रेनों की आवाजाही बाधित हो गई

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here