आखिर कहाँ गया ​वायुसेना का लापता परिवहन विमान एएन-32 । कहीं कोई अन्य ही कारण तो नहीं।

0
132

​वायुसेना के लापता परिवहन विमान एएन-32 का तीसरे दिन भी कोई सुराग नहीं मिला है। बचाव दल ने कोई सुराग पाने के लिए अब इसरो से उपग्रह की तस्वीरें मुहैया कराने का अनुरोध किया है। खराब मौसम और बारिश से खोज अभियान में बाधा आ रही है। समय बीतने के साथ ही अभियान में लगे लोगों और लापता यात्रियों के परिजनों की निराशा बढ़ने लगी है। नौसेना और तटरक्षक बल के 18 जहाजों और एक पनडुब्बी के जरिये लगातार बंगाल की खाड़ी में खोज अभियान जारी है। इसके अलावा पी-81, सी-130 और डोर्नियर जैसे आठ विमान भी अभियान में लगे हुए हैं।
पूर्वी नौसेना कमान के प्रमुख वाइस एडमिरल एचसीएस बिष्ट ने रविवार को विशाखापत्तनम में बताया कि विमान की अब तक कोई निशानी नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि जहां पर विमान गायब हुआ उस इलाके में समुद्र 3,500 मीटर गहरा है। कहीं-कहीं तो गहराई इससे भी ज्यादा है। पानी की गहराई बढ़ने से अभियान की चुनौती भी बढ़ जाती है। बिष्ट ने कहा कि लापता लोगों के परिजनों को लगातार खोज अभियान की जानकारी दी जा रही है। उल्लेखनीय है कि 29 लोगों को लेकर चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर जा रहा वायुसेना का विमान शुक्रवार को लापता हो गया था।

ऐसे में किसी भी कारण को अनदेखा नहीं किया जा सकता है। इस विश्व में ना जाने कितने रहस्य हैं जो अभी तक असुलझे हैं। चाहे बरमूडा ट्राइएंगल हो या किसी यू ऍफ़ ओ की मौजूदगी। हालाँकि किसी आतंकवादी संगठन ने भी इनकी जिम्मेदारी नहीं ली है। पर किसी अप्रत्याशित अनहोनी की सम्भवना से भी इंकार नहीं किया जा सकता।

Comments

comments

share it...