BSF ने दिया सीजफायर उल्लघन का करारा जवाब, पाक के 6 रेंजर को सुलाया मौत की नींद…

0
65

उरी हमले के बाद भारतीय सेना के द्वाका पीओके में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से पाक लगाता अन्तरराष्ट्रीय सीमा पर सीजफायर का उल्लघंन कर रहा है। भारतीय सेना द्वारा सीजफायर उल्लघन का करारा जवाब दिया जा रहा है। पाकिस्तान की ओर से शुक्रवार को फिर अन्तरराष्ट्रीय सीमा पर सीजफायर का उल्लघंन किया गया। पाकिस्तान की तरफ से हीरानगर, सांबा और अखनूर में फायरिंग की गई। शुक्रवार को भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर में सीजफायर तोड़ने पर पाकिस्तान को करारा जवाब दिया और पाकिस्तान के 6 रेंजर को मौत के घाट उतारा दिया। हालांकि इसमें बीएसएफ का एक जवान गुरुनाम सिंह भी घायल हुआ है।

सीमा पार से पिछले दो दिनों में पाकिस्तान की तरफ से कई बार फायरिंग की गई है। पाक रेंजर्स आतंकी घुसपैठ के लिए इस तरह की फायरिंग कर रहे हैं। खुफिया विभाग ने गुरुवार को अन्तरराष्ट्रीय सीमा पर घुसपैठ को लेकर अलर्ट किया था।

काफी मुश्किलों में है फिल्म ‘ऐ-दिल-है-मुश्किल’, MSN ने कहा नही होने देंगे रिलीज़

जम्मू कश्मीर के सांबा सेक्टर से पाकिस्तान में मौजूद आतंकी घुसपैठ की कोशिश कर रहे हैं। अन्तरराष्ट्रीय सीमा के उस पार पाकिस्तान में मौजूद लॉन्चिंग पैड्स के आसपास आतंकियों की मूवमेंट को बीएसएफ ने नोटिस किया है। बीएसएफ ने इसको लेकर गृह मंत्रालय को रिपोर्ट भेजी थी जिसको लेकर गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उच्चस्तरीय बैठक की।

आपको बता दें कि पाकिस्तान पर भारत की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान की तरफ से जम्मू-कश्मीर में सीजफायर का उल्लंघन लगातार जारी है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से अब तक करीब 33 बार पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन हो चुका है। गुरुवार को ही सीजफायर तोड़े जाने के आरोप को लेकर पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया था। इसपर भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा था कि पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की कोशश के बाद गोलीबारी की गई थी।

सुरक्षा एजेंसियों को आशंका है कि सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लेने के लिए पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी भारत में घुसपैठ कर सकते हैं। इसी घुसपैठ से भारत का ध्यान हटाने के लिए गोलीबारी की जाती है। उरी आर्मी कैंप पर 18 सितंबर को किए गए आतंकी हमले में 19 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद 29 सितंबर को LoC में सर्जिकल स्ट्राइक करके कई आतंकी ठिकानों को नष्ट कर दिया था। भारतीय सेना की कार्रवाई में कई आतंकी और उनके मददगार मारे गए थे।



Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here