मेडिकल कॉलेज के नाम को लेकर छिड़ी रार

0
7

स्वशासी मेडिकल कॉलेज के नाम को लेकर जिले में रार छिड़ गई है। अपना दल के संस्थापक डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर कॉलेज का नाम रखने के विरोध में सोमवार को बेल्हा नागरिक स्वाभिमान संघर्ष मोर्चा के बैनर तले लोगों ने विरोध मार्च निकाला। एलान किया कि नाम बदलने तक संघर्ष जारी रहेगा। 30 जुलाई तक अभियान चलेगा। इस दौरान भूख हड़ताल व आमरण अनशन की रणनीति बनाई जाएगी।

जिला अस्पताल को उच्चीकृत कर मेडिकल कॉलेज बनाने के बाद इसके नामकरण को लेकर सियासत तेज हो गई है। शासन ने कॉलेज का नाम अपना दल के संस्थापक डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर रखा है।

अब लोग इसके विरोध में उतर आए हैं। सोशल मीडिया से शुरू हुआ विरोध सोमवार को सड़क तक पहुंच गया। सोमवार को बेल्हा नागरिक स्वाभिमान संघर्ष मोर्चा की ओर से लोग हाथों में तख्तियां लेकर शहीद उद्यान पहुंचे। जिस पर लिखा था कि बेल्हा की विभूतियों का अपमान नहीं सहेंगे।

जातिवादी मानसिकता का फैसला नहीं चलेगा और बेल्हा की माटी के सम्मान में, हम सब मैदान में। दर्जनों लोगों ने नारेबाजी करते हुए लौह पुरुष सरदार पटेल की प्रतिमा के पास पहुंचकर माल्यार्पण किया। इसके बाद जुलूस निकालकर चौक घंटाघर पहुंचे। इस दौरान पुलिस भी जुलूस के आगे पीछे भागती रही। विरोध प्रदर्शन में शामिल लोगों का कहना था कि मेडिकल कॉलेज का नाम बदलने तक संघर्ष जारी रहेगा। किसी भी कीमत पर मेडिकल कॉलेज का नाम डॉ. सोनेलाल के नाम से स्वीकार्य नहीं है।

इस मौके पर अभिषेक तिवारी, अच्युतानंद पांडेय, प्रदीप शुक्ला, वीके श्रीवास्तव, आसिफ अली, संदीप शुक्ला, रमाशंकर तिवारी, नीरज मिश्रा, गुड्डू पठान, जावेद अहमद, अभिषेक दुबे, आचार्य आलोक मिश्र, विवेक, मनीष दुबे, कुलदीप सिंह, आलोक तिवारी, कमलेश, धर्मराज सिंह आदि लोग मौजूद रहे। विरोध मार्च का समापन करते हुए प्रसपा के जिलाध्यक्ष अबरार जहानियां ने कहा कि डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर कॉलेज के नाम पर स्वीकार्य नहीं है।

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here