विपरीत परिस्थितियों में हासिल की सफलता तो किसी ने मां के सपने को किया साकार

0
27

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित पीसीएस परीक्षा 2017 में राजधानी के 50 से ज्यादा मेधावियों ने चयनित होकर लखनऊ का नाम रोशन किया है। किसी ने विपरीत परिस्थितियों में सफलता हासिल की है तो फिर किसी ने अपनी मां के सपने को साकार करने के लिए यह लक्ष्य बनाया।
मंजरी भारद्वाज ने पीसीएस परीक्षा में चयनित होकर अपनी स्वर्गीय मां का सपना साकार किया है। उनकी मां शशी भारद्वाज का कैंसर की वजह से कुछ साल पहले देहांत हो गया था। राजकीय कन्या इंटर कॉलेज में शिक्षक पद पर तैनात मंजरी अपनी सफलता का श्रेय अपने पिता विजय भारद्वाज और बड़ी बहन मयूरी भारद्वाज को देती हैं
पीसीएस परीक्षा में जिला कमांडेंट पद पर चयनित हुए हरीशंकर चौधरी ने सिविल सेवा की तैयारी के लिए वर्ष 2016 में नौकरी छोड़ी थी। उस समय उनका पैकेज करीब 25 लाख था। उनके पिता श्याम नारायण चौधरी एसआई हैं और मां श्याम कली चौधरी गृहिणी हैं। हरीशंकर ने बीटेक के साथ ही आईआईएम कोझिकोड़ से एमबीए की पढ़ाई की है।

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here