ट्रेन से कटा बेटा बचाने में पिता की भी जान गई, बहन के एटीएम से मोबाइल खरीदने के बाद शुरु हुई थी अनबन

0
48

नजीराबाद के नेहरू नगर निवासी प्रेम कुमार श्रीवास्तव (50) बांसमंडी स्थित मसूद कांप्लेक्स में कपड़े की दुकान में काम करते थे। उनका बेटा नमन श्रीवास्तव (16) बीएनएसडी इंटर कॉलेज में 12वीं का छात्र था। पुलिस के मुताबिक नमन ने करीब एक सप्ताह पहले 13 हजार रुपये का ऑनलाइन मोबाइल खरीदा था।

पैसों का भुगतान बहन नैंसी के एटीएम से कर दिया था। सोमवार को नैंसी को इसकी जानकारी हुई, तब से घर में विवाद चल रहा था। मंगलवार सुबह नमन का पिता से भी झगड़ा हुआ। इसके बाद शाम करीब साढ़े छह बजे नमन खुदकुशी की धमकी देकर घर से निकल गया।

पीछे-पीछे प्रेम कुमार भी चल दिए। नमन क्रॉसिंग के पास रेलवे ट्रैक के किनारे बैठा था। प्रेम कुमार भी बगल में बैठ गए और उसे समझाने लगे। इसी बीच ट्रेन आई तो नमन ट्रैक पर पहुंच गया। प्रेम भी उसे बचाने के लिए आगे बढ़े और दोनों ट्रेन की चपेट में आ गए। मौके पर मौत हो गई।

Comments

comments

Related posts:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here